Search This Website

वॉट्सऐप में खल रही इन 5 जरूरी फीचर्स की कमी जानिए



https://en.m.wikipedia.org/wiki/WhatsApp

वॉट्सऐप में खल रही इन 5 जरूरी फीचर्स की कमी जानिए


वॉट्सऐप (WhatsApp) सबसे पॉप्युलर मेसेजिंग ऐप है। चैटिंग एक्सपीरियंस को बेहतर बनाने और यूजर्स की सहूलियत के लिए वॉट्सऐप नए-नए फीचर ला रहा है। हालांकि, वॉट्सऐप को कड़ी टक्कर भी मिल रही है। वॉट्सऐप को टक्कर दे रहा है टेलीग्राम (Telegram)। प्रिवेसी पॉलिसी के कारण टेलीग्राम की शुरुआत शानदार रही है। अब टेलीग्राम ने यूजर एक्सपीरियंस को और बेहतर बनाने के लिए कई फीचर लॉन्च किए हैं। टेलीग्राम के यूजर्स की संख्या 20 करोड़ से ज्यादा हो गई है और आने वाले सालों में इसके यूजर्स दोगुने होने की उम्मीद है।


नए अपडेट के जरिए टेलीग्राम कई शानदार फीचर लेकर आया है। ऐसे में वॉट्सऐप को अपनी लीडरशिप पोजिशन बनाए रखने के लिए फीचर्स पर काफी काम करना होगा। हम आपको बता रहे हैं कि टेलीग्राम में 5 ऐसे कौन से फीचर हैं, जो कि वॉट्सऐप में नहीं हैं।

फाइल साइज लिमिट


वॉट्सऐप में भेजी जाने वाली फाइल के साइज की एक लिमिट है। वॉट्सऐप अपने यूजर्स को 100 MB से ज्यादा बड़ी फाइल भेजने की इजाजत नहीं देता है। वहीं, टेलीग्राम अपने यूजर्स को 1.5GB तक की कोई भी फाइल सेंड और रिसीव करने की सहूलियत देता है।

म्यूटेड मेसेज

टेलीग्राम अपने यूजर्स को किसी व्यक्ति या ग्रुप में बिना किसी नोटिफिकेशन साउंड के मेसेज भेजने की सहूलियत देता है। यह रिसीवर (मेसेज पाने वाला) को बिना डिस्टर्ब किए मेसेज भेजने का शानदार तरीका है और वॉट्सऐप को भी ऐसा फीचर लाने की जरूरत है।

स्मार्ट नोटिफिकेशंस

टेलीग्राम का स्मार्ट नोटिफिकेशन फीचर यूजर को ग्रुप म्यूट करने की इजाजत देता है। यूजर्स को नोटिफिकेशंस तभी मिलते हैं, जब लोग उस यूजर का जिक्र करते हैं या उनके मेसेज का जवाब देते हैं। वॉट्सऐप में इस फीचर की कमी है। इसके अलावा, टेलीग्राम में यूजरनेम फीचर है। आप टेलीग्राम में किसी दूसरे व्यक्ति का कॉन्टैक्ट नंबर न होने के बाद भी बात कर सकते हैं। यह यूजर के कॉन्टैक्ट नंबर की प्रिवेसी को सुनिश्चित करता है।

स्लो मोड

स्लो मोड किसी यूजर की तरफ से ग्रुप में पोस्ट किए जाने वाले मेसेज को लिमिट करता है। यह मोड ग्रुप एडमिन को मेसेज के फ्लो को कंट्रोल करने में मदद करता है। इस फीचर के कारण यूजर्स ग्रुप के एडमिन की तरफ से सेट किए गए टाइम इंटरवल के मुताबिक ही मेसेज भेज पाते हैं। इसमें यूजर्स को पता लगता है कि एक मेसेज भेजने के बाद उसे दूसरा मेसेज सेंड करने के लिए कितनी देर इंतजार करना पड़ेगा।

ग्रुप परमिशन

टेलीग्राम अपने यूजर्स को डिफॉल्ट परमिशंस सेट करने की इजाजत देता है, जो कि ग्रुप के सभी मेंबर्स को किसी 'खास' तरह का कंटेंट पोस्ट करने से रोकता है।टेलीग्राम में नॉर्मल ग्रुप कैपसिटी 200 है। लेकिन, इस लिमिट तक पहुंचने पर ग्रुप एक सुपर ग्रुप में तब्दील हो जाता है, जिसकी कैपसिटी 5,000 है। सुपर ग्रुप में नॉर्मल ग्रुप से कहीं ज्यादा फीचर होते हैं।

To Get Fast Updates Join Our Social Media: Telegram | WhatsApp | Facebook

4 comments:

  1. https://chat.whatsapp.com/B3ezrnta6goAy1BFpdH5Pv
    *Share all wharsapp group*

    ReplyDelete
  2. गूगल कंपनी में जॉब कैसे पाएंं? " http://makemaneyonlinefast.blogspot.com/2019/08/blog-post.html
    *Click here blue link all information����*

    ReplyDelete
  3. Nice sir. Sahi me whstapp ko bhi yahi future me Lana chahiye

    ReplyDelete

Please Comment Your Questions, Queries or Suggestions

Popular Posts